A digital magazine on sexuality in the Global South: We are working towards cultivating safe, inclusive, and self-affirming spaces in which all individuals can express themselves without fear, judgement or shame

Author: Vithika Yadav

Stock image of a hand typing a keyboard.

क्योंकि सेक्स और रिश्तों के सवालों को शर्म के दायरे से बाहर निकालना ज़रूरी है

This post is a part of TARSHI's #TalkSexuality Campaign. विथिका यादव: • क्या कंडोम के इस्तेमाल से सेक्स का मज़ा खराब हो जाता है? • क्या हस्तमैथुन एक बीमारी है? • अपनी शादी के बाद की पहली रात को कैसे बना सकते हैं ख़ास? • अगर माहवारी के दौरान सेक्स किया जाए तो क्या गर्भवती…
A young woman in a white Indian suit and red chunni standing on a balcony with a coffee mug in her hands. Her hair is let down and pulled over the left shoulder. She is smiling broadly.

लव मैटर्स – सुरक्षित, संतोषजनक और निरपेक्ष

सेक्स और यौनिकता को लेकर हमारे समाज में बहुत सारी वर्जित बातें हैं – चाहे वो हस्तमैथुन के बारे में हो, या गर्भपात, समलैंगिकता या शादी से पहले सेक्स के बारे में। इन मुद्दों को कभी समाज और संस्कृति के नाम पर, तो कभी राजनीति, सियासत और धर्म के नाम पर और भी निषेध बना…
x