A digital magazine on sexuality, based in the Global South: We are working towards cultivating safe, inclusive, and self-affirming spaces in which all individuals can express themselves without fear, judgement or shame

reproductive

Photo zoomed in on a pregnant woman's belly, which is unclothed. Her hands rest at the top and bottom of her belly.

प्रजनन प्रौद्योगिकी – एक नारीवादी विश्लेषण

रुपसा मल्लिक द्वारा लिखित सोमिंदर कुमार द्वारा अनुवादित पिछले दो दशकों से प्रजनन प्रौद्योगिकी (रिप्रोडक्टिव टेक्नोलॉजी आरटी)[1] का उपयोग आम तौर पर महिलाओं के जीवन का एक अभिन्न अंग बन गया है और महिलाओं को इसका उपयोग करना ही होता है। विभिन्न प्रकार की नई और पुरानी प्रजनन प्रौद्योगिकी के उपलब्ध होने की बढ़ी जानकारी…
x