A digital magazine on sexuality in the Global South

कॉम्प्रीहैन्सिव सेक्शुएलिटी ऐजुकेशन (सीएसई)

 इंटरनैशनल प्लैन्ड फेडरेशन फ्रेमवर्क फॉर कॉम्प्रीहैन्सिव सेक्शुएलिटी ऐजुकेशन, जनवरी 2010 के अनुसार ‘व्यापक यौनिकता शिक्षा युवाओं को वह जानकारी, कौशल, दृष्टिकोण और मूल्य उपलब्ध कराती है जिससे कि वे अपनी यौनिकता निर्धारित करके उसका शारीरिक व भावात्मक आनंद ले सकें, व्यक्तिगत रूप से व रिश्तों में। यह यौनिकता के संपूर्ण रूप को भावनात्मक और सामाजिक विकास के संदर्भ में देखती है। यह मानती है कि केवल जानकारी देना ही पर्याप्त नहीं है। युवाओं को आवश्यक जीवन कौशल विकसित करने के लिए और सकारात्मक दृष्टिकोण और मूल्य विकसित करने के अवसर दिए जाने चाहिए।

व्यापक यौनिकता शिक्षा, यौनिकता के दोनों, शारीरिक एवं जैविक पहलुओं और भावनात्मक एवं सामाजिक पहलुओं  के मुद्दों को शामिल करती है। यह इस बात को समझती है और मानती है कि यौनिकता सभी के जीवन का एक महत्वपूर्ण पहलू हो सकती है और यह केवल बीमारी या गर्भधारण रोकने तक सीमित नहीं है। सीएसई कार्यक्रमों को लक्षित समूहों की उम्र और विकास के चरणों के अनुसार अपनाया जाना चाहिए।’

x