A digital magazine on sexuality in the Global South

Author: Zeba Siddiqui

Sanitary napkins made of cloth. (Image credit: The Kachra Project)

घरों में जेंडर आधार पर जगहों का संघर्ष

मैं घर के बैठक वाले कमरे में दाखिल हुई तो पाया कि वहाँ एक अंजान सी खामोशी पसरी हुई थी। आम तौर पर बतियाते रहने वाले मेरे मम्मी-पापा बिना एक दूसरे की ओर देखे, चुपचाप अपनी शाम की चाय पीने में मशगूल थे। मेरे अचानक कमरे में आ जाने पर भी उन्होने कोई प्रतिक्रिया नहीं…
x