A digital magazine on sexuality in the Global South

Author: Sunita Bhadauria

यौनिकता और विकलांगता – क्या सच क्या सोच

तारशी द्वारा वर्ष 2010 में ‘भारतीय संदर्भ में यौनिकता और विकलांगता’ कार्यशील परिपत्र (वर्किंग पेपर) निकाला गया था। वर्ष 2010 से 2017 के बीच - वैश्विक से लेकर स्थानीय, दोनों स्तरों पर - कानून और नीतियों में बदलाव के साथ संस्थाओं और व्यक्तियों द्वारा शोध और नई पहलें हुई हैं, जिनसे गुजांइशें और बढ़ी हैं।…
x